श्री एस.के.चौधरी

अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक

श्री सुनिल कुमार चौधरी (एस.के.चौधरी) ने वर्ष 1982 में दिल्‍ली इंजीनियरिंग कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग में स्‍नातक की डिग्री प्राप्‍त की और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान, दिल्‍ली से प्रबंधन एवं प्रणाली में स्नातकोत्तर किया तथा भारतीय विधि संस्‍थान से वैकल्पिक विवाद निपटान में पी.जी.डिप्‍लोमा की डिग्री प्राप्‍त की है। इन्‍हें 34 वर्षों का अनुभव प्राप्‍त है।
इससे पूर्व, वे 3 वर्ष की अवधि के लिए राष्‍ट्रीय भवन निर्माण निगम लिमिटेड (एनबीसीसी) में निदेशक (परियोजना) के पद पर कार्यरत थे। इन्‍होंने भारतीय और विदेशी बाजार में सिविल निर्माण, व्‍यवसाय विकास में नई तकनीकों के कमिशनिंग, आमेलन और निगमन के पश्‍चात परियोजनाओं के प्रचालन और अनुरक्षण सहित प्रचालन के विभिन्‍न क्षेत्रों [यथा परियोजना प्रबंधन परामर्श (पीएमसी), ईपीसी संविदा, तथा रियल इस्‍टेट बाजार] में परियोजनाओं के क्रियान्‍वयन/निष्‍पादन और मॉनीटरिंग का कार्य किया है। इनके कार्यकाल के दौरान एनबीसीसी ने निर्माण उद्योग में व्‍यापक ख्‍याति प्राप्‍त की है और कंपनी का बाजार भाग 10 गुना बढ़ा है तथा कंपनी को "नवरत्‍न" का दर्जा प्रदान किया गया था।
इससे पूर्व वे साढ़ सात वर्ष तक वरिष्‍ठ कार्यपालक निदेशक (परियोजना) के रूप हुडको में कार्यरत थे। उन्‍होंने सभी क्षेत्रों में आवासन और अवसंरचना परियोजनाओं की परियोजना वित्‍त, मूल्‍यांकन एवं मॉनीटरिंग में अनुभव प्राप्‍त किया है। इन्‍होंने भारत सरकार की अग्रणी परियोजनाओं जैसे सार्वजनिक निजी भागीदारी, आदि पर जेएनएनयूआरएम, आरएवाई के परियोजना मूल्‍यांकन का कार्य भी किया है।
इन्‍होंने इरकॉन में अपना कैरियर आरंभ किया और इन्‍हें यहां विभिन्‍न पदों पर लगभग 23 वर्ष का अनुभव प्राप्‍त है। इन्‍होंने फ्लाइओवरों, सड़कों, रेलवे लाइनों आदि की निर्माण परियोजनाओं सहित विश्‍व बैंक, एबीडी आदि द्वारा वित्‍तपोषित होने वाली राष्‍ट्रीय और अंतरराष्‍ट्रीय निविदा कार्यों की व्‍यवस्‍था की है।
इन्‍हें अवसंरचना परियोजनाओं जैसे राजमार्ग, रेलवे, विमानपत्‍तन, फ्लाइओवर तथा पुलों आदि के क्षेत्र के साथ-साथ अंतरराष्‍ट्रीय बाजार तथा वित्‍तीय मूल्‍यांकन और व्‍यवहार्यता अध्‍ययन आदि के क्षेत्र में व्‍यापक ज्ञान प्राप्‍त है। हाल ही में, इन्‍हें वर्ष 2017 में दिल्‍ली इंजीनियरिंग कॉलेज के डीसीई-डीटीयू एल्‍मनाई एसोसिएशन से "गणमान्‍य एल्‍मनाई" का पुरस्‍कार प्रदान किया गया है।

-